name
name
name
name
name
name

सूचना

प्राथमिक भूमि विकास बैंकों द्वारा वर्तमान में किसानों एवं लघु उद्यमियों को 12.95 प्रतिशत वार्षिक ब्‍याज दर पर दीर्घकालीन ऋण उपलब्‍ध करवाये जा रहे हैं।

   

name

मुख्यमन्त्री जनजाति(अनुसूचित/सहरिया क्षेत्र) जलधारा योजना

 

मुख्यमन्त्री जनजाति जलधारा योजना कृषकों को राहत प्रदान के उद्येश्य से जनजाति क्षेत्र के 6 जिलों की सुरक्षित, अर्द्धसंवेदनशील तथा डार्क श्रेणी में वर्गीकृत पंचायत समितियों में राज्य सरकार के आदेश क्रमांक प-17(1)सह/2007 दिनांक 15-12-2007 द्वारा स्वीकृत की गई है। इसके अन्तर्गत नवकूप निर्माण, कूप गहरा कराना, नलकूप निर्माण, पम्पसैट, फॅव्वारा सयंत्र, बुन्दा - बुन्दी सिंचाई सयंत्र, पाईप लाईन, विद्युतिकरण उद्येश्यों हेतु डार्क जोन क्षेत्रों में कृषकों को ऋण उपलब्ध करवाया जा रहा है। यह ऋण उपरोक्त उद्येश्यों की नाबार्ड इकाई लागत के अनुसार स्वीकृत किया जा रहा है। योजनान्तर्गत इन क्षेत्रों में उपलब्ध करवाये गए ऋण का पुर्नभुगतान नहीं किया जाएगा। अत: सहकारी बैंक अपने स्वयं के संसाधनों / फण्ड से ऋण उपलब्ध करवायेंगे।

 

 

view more ऋण वितरण के लिए योजना क्षेत्र   view more फॅव्वारा सयंत्र हेतु अनुदान
view more पाईप लाईन हेतु अनुदान   view more ड्रिप सयंत्र हेतु अनुदान
view more जनजाति क्षेत्रीय विभाग द्वारा देय अनुदान      

 

 

1- ऋण वितरण के लिए योजना क्षेत्र

-जनजाति उपयोजना क्षेत्र के 6 जिलो - बॉसवाडा, बारॉ, डून्गरपुर, चित्तौडगढ, सिरोही तथा उदयपुर की कुल 25 पंचायत समितियो में यह योजना क्रियान्वित की जा रही है। विवरण निम्न प्रकार है :-

 

 
क्र- जिला कुल पंचायत सुरक्षित सेमी-क्रिटिकल डार्क
सं-   समितियॉ (ग्रे) क्रिटिकल ओवर एक्स- प्लोईटेड
1. बॉसवाडा : 8

पीपलखूट

आनन्दपुरी,

बागीदौरा,
घाटोल,
कुशलगढ,

सज्जनगढ,

तलवाडा

गढी असफल कूप क्षतिपूर्ति सहायता योजन
2. प्रतापगढ: 2 - - --

प्रतापगढ,

अरनोद

3. डूॅगरपुर 5

आसपुर

बिच्छीवा ,

डून्गरपुर

सागवाडा,

सिमलवाडा

--
4. सिरोही 1 -- आबूरोड - --
5.

उदयपुर

7 --

खैरवाडा,

कोटडा,

सराडा

गिरवा,

झाडौल,

सलूम्बर,

धरियावाद

6. बारॉ : 2

शाहबाद,

किशनगंज

-- --
  योग 25 4            8 7 6

 

 

   2-  उद्यान विभाग द्वारा देय अनुदान

        उद्यान विभाग द्वारा फॅव्वारा सयंत्र एवं पाईप लाईन हेतु निम्नानुसार अनुदान दिया जा रहा है :-

 

(अ) फॅव्वारा सयंत्र हेतु अनुदान
 
क्र- फॅव्वारा मॉडल

देय अनुदान (एल्यूमिनियम व एचडीपीई दोनों के लिए)

समस्त श्रेणी के कृषकों के लिए

सं- (है-) 
    63 एमएम 75 एमएम 90 एमएम
1. 0-5 3950 4100

 

2. 1.0 6850 7150 7500
3. 2.0 8500

8850

10600

4. 3.0 10900 11300 13450
5. 4.0 12900 13300 15450
6. 5.0 15050

15500

18300

         

 

 

(ब) पाईप लाईन हेतु अनुदान
 
क्र- पाईप लाईन देय अनुदान
सं- (मी) सामान्य कृषक लघु / सीमान्त / अजा / अजजा / महिला कृषक
    एचडीपीई पाईप पीवीसी पाईप एचडीपीई पाईप पीवीसी पाईप
1. 210 मी- तक : 15 रूपये मी- या अधिकतम 3150 रु-

13रू प्रति मीटर अधिकतम रुपये 2700

50 रूपये प्रतिमीटर या अधिकतम 5250 रूपये 22 रूपये प्रतिमीटर या अधिकतम रूपये 4600
2. 210 मी- से 400 मी- तक 15 रूपये प्रतिमीटर या अधिकतम 5000 रूपये 13रुपये प्रतिमीटर या अधिकतम 4300 रूपये 25 रूपये प्रतिमीटर 210 मीटर तक तथा इससे उपर 15 रूपये प्रतिमीटर या अधिकतम 8000 रूपये 22 रूपये प्रतिमीटर 210 मीटर तक तथा इससे ऊपर 13 रूपये प्रतिमीटर या अधिकतम 7000 रुपये

           

 

 

(स) ड्रिप सयंत्र हेतु अनुदान

इकाई लागत का 50 प्रतिशत/ अधिकतम सीमा 4 हैक्टर मॉडल के सयंत्र हेतु।

 

(द) जनजाति क्षेत्रीय विभाग द्वारा देय अनुदान

इस योजनान्तर्गत क्षेत्र के अनसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के कृषकों को विशेष रुप से लाभान्वित करने हेतु जनजाति क्षेत्रीय विभाग के पत्र दिनॉक 5-8-2008 के अनुसार जनजाति विभाग द्वारा विभिन्न उद्येश्यों मे इकाई लागत का 50 प्रतिशत अनुदान दिया जाना प्रस्तावित है। शेष राशि बैंक द्वारा बतौर ऋण के रूप में उपलब्ध करवायी जावेगी। यह अनुदान अन्य श्रेणी के कृषकों को देय नहीं है।

 

name
name
Design & Developed by Information & Computer Section @2014 R.S.L.D.B. Ltd 
name